उत्तर प्रदेश

वर्षों से एक ही कुर्सी पर तैनात कर्मी दे रहे है भ्रष्टाचार को अंजाम

लखनऊ – वर्षों से एक ही कुर्सी पर तैनात कर्मचारी भ्रष्टाचार को अंजाम दे रहे हैं । यह आरोप लखनऊ के विधि विशेषज्ञ व समाज सेवी नीरज पाण्डेय ने लगाया है। उंन्होने कहा कि एक ओर राज्य की योगी सरकार भ्रष्टाचार मुक्त समाज की स्थापना के लिए अपनी प्रतिबद्वता के साथ कार्य कर रही है वहीं दूसरी ओर खाद्य व रसद विभाग के आला अधिकारियों के सांठ – गांठ से एक ही पटल अथवा ब्लाक क्षेत्र में अपनी तैनाती कराकर भ्रस्टाचार को बढ़ावा दिया जा रहा है। उंन्होने कहा कि प्रदेश के निर्बलतम वर्ग को निवाला देने वाली सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना सार्वजनिक वितरण प्रणाली की सुचिता को यह कर्मचारी पतीला लगाने का कार्य रहे है। नीरज पाण्डेय ने सूचना के अधिकार अधिनियम 2005 के आधार पर उप्र शासन से खाद्य व रसद विभाग के लिपिकों के एक ही पटल या कार्यक्षेत्र में तैनाती की अधिकतम अवधि के प्रावधान के विषय में सूचना मांगी है साथ ही उन्होंने सूचना के अधिकार के तहत प्रदेश के विभिन्न जिलों में लगातार तीन वर्षों से अधिक समय से एक ही पटल अथवा कार्यक्षेत्र में कब्जा जमाए आपूर्ति लिपिकों की सूची मांगी है । नीरज पाण्डेय ने कहा खाद्य व रसद विभाग से सूचना प्राप्त होने के बाद उक्त मामले की शिकायत मुख्यमंत्री से किया जाएगा। जिससे विभाग में व्याप्त भ्रस्टाचार को समाप्त किया जा सके और दोषियों पर कार्यवाही हो सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

17 + 16 =

Back to top button