उत्तर प्रदेश

महासमिति के आह्वान पर लखनऊ में दो नगर निगम बनाने को लेकर एकजुट हुवे नए नगर क्षेत्र के 88 गांवों के ग्रामप्रधान

रिपोर्ट – विवेक शर्मा

ब्रेकिंग न्यूज़ यूपी लखनऊ– लखनऊ जनकल्याण महासमिति ने लखनऊ में दो नगर निगम बनाने की मांग की है।

आज लखनऊ नगर निगम सीमा में शामिल 88 गांवो के ग्राम प्रधान पूर्व प्रधान एवं निवासियों के साथ हुई बैठक को संबंधित करते हुवे महासमिति के अध्यक्ष उमाशंकर दुबे ने कहा कि वर्तमान में लखनऊ में नए 88 गांवो को जोड़कर लगभग 40 लाख की आवादी हो गयी है ऐसे में कम से कम 2 नगर निगम बनाया जाय जिससे नए क्षेत्रो का विकास हो सके।

नगर निगम द्वारा जबरन हाउस टैक्स के निर्णय वापस कराने के लिए मुख्यमंत्री आभार व्यक्त करते हुवे महासमिति के महासचिव रामकुमार यादव ने कहा कि जिस प्रकार मुख्यमंत्री ने हाउस टैक्स से नए नगर निगम क्षेत्र की जनता को राहत दी है उसी प्रकार 2 नगर निगम बनाकर क्षेत्र के विकास का सकारात्मक कदम उठाना चाहिए।

बैठक 88 गांवों के ग्रामप्रधान, पूर्व ग्राम प्रधान सहित बड़ी संख्या में लखनऊ की आरडब्ल्यूए के पदाधिकारी मौजूद थे। बैठक में मखदुमपुर के ग्राम प्रधान देवेश यादव को नए नगर निगम के सभी 88 गांवों का संयोजक बनाया गया है।

उमाशंकर दुबे ने बताया की देवेश यादव नगर निगम के साथ साथ एलडीए से जनता को न्याय दिलाने को लेकर सभी 88 गांवों की जनता को लखनऊ जनकल्याण महासमिति से जोड़ने का काम करेंगे।

इस दौरान नए 88 गांवो से जबरन लिए जाने वाले हाउस टैक्स का विरोध करने वाले सम्मानित सदस्यो महासमिति की तरफ से सम्मनित किया गया जिनके संघर्ष और सहयोग से सरकार ने हाउस टैक्स वापस लिया। बैठक में सभी 88 गांवों से सैकड़ो की संख्या में ग्राम प्रधान, पूर्व प्रधान, बीडीसी सदस्त, आदि मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen − 10 =

Back to top button