लाइफस्टाइल

बेहतर स्वास्थ्य के बगैर मिशन शक्ति की कल्पना अधूरी रामकुमार यादव

बेहतर स्वास्थ्य के बगैर मिशन शक्ति की कल्पना अधूरी है सरकार इस समय देश और प्रदेश में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा दे रही है जगह जगह जन जागरूकता रैलियां निकाली जा रही है महिलाओं को कैसे आत्मनिर्भर बनाया जाए इसको लेकर विभिन्न सरकारी संगठन और निजी संस्थाएं अभियान चला रहे हैं इस संबंध में तरह-तरह के बेवनार आयोजित किए जा रहे हैं लेकिन इस सब के बीच जो सबसे बड़ी चीज निकल कर आई है कि जन जागरूकता के साथ-साथ प्रत्येक व्यक्ति का स्वस्थ होना जरूरी है

खासकर महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर हम सबको गंभीर होना पड़ेगा महिलाएं चाहे वह हाउसवाइफ हो या निजी और सरकारी सेवा में कहीं ना कहीं उनके ऊपर घर परिवार के साथ साथ ऑफिस की एक बड़ी जिम्मेदारी होती है महिलाएं आज हर क्षेत्र में आगे हैं लेकिन उनका खानपान उनका रहन-सहन इस कदर प्रभावित हो रहा है कि वह कम उम्र में ही थकान महसूस करने लगी है कोई डाइट प्रोटोकॉल नहीं है जंक फूड लोगों की दिनचर्या में शामिल हो गया है

इन्हीं सबके बीच आज लखनऊ के गोमती नगर विस्तार सेक्टर 4 सेंट्रल पार्क में बड़ी संख्या में महिलाएं पुरुष और बच्चे मिशन शक्ति कार्यक्रम के तहत खेलकूद प्रतियोगिता में भाग लेते नजर आए सभी की दिनचर्या के संबंध में जानने की कोशिश की गई तो उसमें कई ऐसे लोग मिले जिन्होंने 25 से 30 किलो तक अपना वजन कम किया, लोग एनअर्जेटीव दिखे, कई लोग ऐसे दिखे जो बुजुर्ग थे चल फिर नही पाते थे लेकिन आज वह सुबह 7 बजे से पार्क में डांस करते दिखे।

मानो उनके जीवन मे नया बदलाव आ गया हो। यह नजारा कोई एक दिन का नही बल्कि इस तरह वह प्रतिदिन सुबह उठकर एक जगह इकट्ठा होते है साथ मे नाश्ता करते है। इन सबके कोच है जो उन्हें जीवन की कला सिखाते है। क्या बच्चे क्या बड़े क्या महिलाएं सब एक दूसरे के साथ आने अनुभव साझा करते है। सबसे बड़ी बात यह सभी लोग अपने जीवन को बेहतर जीने की कला सिख चुके है। कब और क्या खाना है,कब और नाश्ता करना है।

अपने जीवन को योग और व्यायाम के साथ साथ बेहतर खानपान से कैसे सही किया जा सकता है इसको जानना ही असली जीवन शैली है और खासकर महिलाओं को इस दिशा में जागरूक करना ही असली मिशन शक्ति है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

6 + 12 =

Back to top button