उत्तर प्रदेश

एलडीए वीसी को जनेश्वर एनक्लेव दिखाकर सृष्टि,स्मृति, सरगम और सुलभ अपार्टमेंट का भ्रस्टाचार छिपा ले गए अधिकारी

रिपोर्ट – रामकुमार यादव

ब्रेकिंग न्यूज़ यूपी लखनऊ – 26 जुलाई को कार्यभार सम्हाले एलडीए उपाध्यक्ष को एलडीए के अधिकारी अच्छा अच्छा दिखाकर अपने कारनामे छिपाने की होड़ लगाए हुवे है।

कोई अपने पूर्व के विकास कार्य की जनसहभागिता दिखाकर अपनी छवि बनाने में लगा है तो कोई नए नए उपाय और योजनाओं को बताकर अपनी ईमानदार छबि बताने की कोशिश कर रहा है। अधिकारियों में अपने अपने कार्य को अच्छा अच्छा बताने की मानो होड़ सी लग गयी है। बैठकों का दौर जारी है ।

हद तो तब हो गयी जब अधिकारी अपना भ्रस्टाचार छिपाने के लिए बगैर किसी सूचना के अपने अच्छे प्रोजेक्ट का सब कुछ ठीक बताकर वीसी का दौरा करा बैठे।
ताजा मामला जानकीपुरम विस्तार का है। लखनऊ जनकल्याण महासमिति के उपाध्यक्ष विवेक शर्मा ने बताया कि जानकीपुरम विस्तार में जनेश्वर मिश्र इन्क्लेव के अलावा सृष्टि, स्मृति और सरगम सहित सुलभ आवास भी बने है लेकिन एलडीए के अधिकारी नए एलडीए उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी को अपने सबसे अच्छे प्रोजेक्ट जनेश्वर इन्कलेव दिखाकर अपनी अच्छी छबि बनानां चाहते है इसी उद्देश्य से आवंटियों को बताये बगैर आज सुबह सुबह एलडीए वीसी को जनेश्वर इन्क्लेव दिखा कर जानकीपुरम विस्तार का दौरा करा डाला। वहां के आवंटियों तक को भनक नही लगने दिया गया क्योकि अधिकारियों को पता है यदि आवंटी रहेंगे तो एलडीए की हकीकत वीसी के सामने आ जायेगी।

गौरतलब है जानकीपुरम विस्तार में खासकर सृष्टि, स्मृति, सरगम और सुलभ अपार्टमेंट की हालत बहुत खराब है फायर फाइटिंग सिस्टम से लेकर वाटर हार्वेस्टिंग क्लब हाउस से लेकर उन तमाम वादों को पूरा नहीं किया गया है जो एलडीए ने आवंटित से किए थे इतना ही नहीं बिल्डिंग स्ट्रक्चर तक सही नहीं है जिसके कारण सिर्फ सीपेज और लीकेज की समस्या ही नहीं बल्कि नवनिर्मित भवन, जर्जर दिखता है शायद यही कारण है कि अधिकारी एलडीए वीसी को अपने कारनामों की तस्वीर नहीं दिखाना चाहते है।

पिछले दिनों पूर्व एलडीए वीसी अभिषेक प्रकाश भी जानकीपुरम विस्तार का न सिर्फ दौरा कर चुके है बल्कि अधिकारियों को कार्यवाही के कड़े निर्देश भी दिए थे लेकिन अधिकारी कार्यवाही करने के बजाय हर वीसी के स्थानांतरण तक आश्वासन देकर सिर्फ समय काटने का कार्य करते है और जो भी नया वीसी आता है उसे फिर से नए रूप में भ्रस्टाचार को छिपाते हुवे दौरा किराते है।

इस दौरान एलडीए उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी के साथ सचिव अधिशासी अभियंता सहित वह सभी बड़े अधिकारी मौके पर मौजूद थे सिर्फ अगर किसी को वीसी के इस दौरे से दूर रखा गया तो वह वहां के आवंटी थे। आवंटियों से मिले बगैर सब कुछ अच्छा बनता कर वीसी का दौरा कराने वाले अधिकारी यह भूल गए कि चोरी की बिजली से जनेश्वर एंक्लेव के आवंटियों के घरो में बिजली की सप्लाई दी जा रही है ।

विवेक शर्मा ने कहा जो भी नया वीसी आता है यह अधिकारी अपने चश्मे से विकास कार्य दिखाकर गुमराह करते है। अब सवाल है कि क्या नए वीसी इन्ही अधिकारियों के चश्मे से देखने विकास कार्य या कोई कार्यवाही भी होगी ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 4 =

Back to top button