उत्तर प्रदेश

एलडीए के अधिकारी आरडब्ल्यूए में सेनेटाइजेसन को लेकर कर रहे गुमराह, ऋतु सुहास ने दिए कड़े निर्देश

ब्रेकिंग न्यूज़ यूपी

रिपोर्ट – रामकुमार यादव

लखनऊ विकास प्राधिकरण के कई जिम्मेदार अधिकारी सेनेटाइजेसन के नाम पर आला अधिकारियों को ग़ुमराह कर रहे है। आज कानपुर रोड मानसरोवर योजना के कोविड नोडल अधिकारी ऋतु सुहास से निवासियों ने शिकायत की। इस दौरान लखनऊ जनकल्याण महासमिति के अध्यक्ष उमाशंकर दुबे भी मौजूद थे।

उमाशंकर दुबे ने कहा कि यह आपातकाल है हमे आरोप प्रत्यारोप से बचने की कोशिश करना चाहिए लेकिन यह बात आरडब्ल्यूए और एलडीए दोनों को सोचना पड़ेगा। उमाशंकर दुबे ने कहा हमे अपनी जिम्मेदारियों के संबंध में एक बात ध्यान देने की जरूयत है एलडीए और नगर निगम की क्या जिम्मेदारी है और आरडब्ल्यूए की क्या जिम्मेदारी है।

दरसल जो क्षेत्र नगर निगम में आते है उन क्षेत्रों के कामन एरिया में नगर निगम सेनेटाइजेसन और फॉगिंग की व्यवस्था कराता है बाकी जिन क्षेत्रों को नगर निगम ने अभी हैंडओवर नही लिया है और वह क्षेत्र एलडीए में है तो एलडीए सेनेटाइजेसन कराएगा।

वही जो निजी टाउनशिप है जैसे सहारा स्टेट या सुशांत गोल्फ सिटी वहां की व्यवस्था अभी उपरोक्त बिल्डर ही देख रहे है ऐसे में वह बिल्डर इस आपातकाल में अपनी जिम्मेदारी से भाग नही सकते।

आरडब्ल्यूए का कार्य

ज्यादातर दिक्कतें अपार्टमेंट में आ रही है ऐसे में आरडब्ल्यूए को अपने अपने अपार्टमेंट में सेनेटाइजेसन और फॉगिंग की व्यवस्था करनी चाहिए ।

उमाशंकर दुबे ने कहा जो आरडब्ल्यूए को वहां के निवासी/ आवंटियों से मेंटिनेंस शुल्क लेकर रखरखाव कर रहे है उसकी जिम्मेदारी उस आरडब्ल्यूए की होगी लेकिन जो आरडब्ल्यूए को एलडीए, आवास विकास या बिल्डर एडवांस में निवासियों से मेंटिनेंस शुल्क लेकर रखरखाव कर रहा है उनकी जिम्मेदारी उक्त बिल्डर की होगी चाहे वह निजी बिल्डर हो या सरकारी।

उदाहरण के लिए आज आरडब्ल्यूए के निरीक्षण में ओमेक्स आर 2 का जब जायज़ा लिया गया तो पता चला अभी ओमेक्स आर 2 अपार्टमेन्ट के रखरखाव का कार्य बिल्डर कर रहा है और वहां सेनेटाइजेसन की व्यवस्था बेहतरीन दिखी यानी बिल्डर ने व्यवस्था सुनिश्चित की है। वही कानपुर रोड मानसरोवर योजना में जायज़ा लिया गया तो पता चला सनराइज अपार्टमेन्ट सहित कई अपार्टमेन्ट में आरडब्ल्यूए अस्तित्व में नही है रखरखाव बिल्डर यानी एलडीए कर रहा है, लेकिन मौके पर कोई व्यवस्था नही दिखी, आज पहली बार सेनेटाइजेसन हुवा वह भी एलडीए के नोडल अधिकारी ऋतु सुहास के प्रयास से नगर निगम के द्वारा ऋतु सुहास ने अपनी मौजूदगी में योजना के कई अपार्टमेंट में सेनेटाइजेसन करवाया वही अधिशासी अभियंता आनंद कुमार मिश्रा को आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिए जिससे प्रतिदिन कोरोना काल मे सेनेटाइजेसन कराया जा सके।


इस दौरान लखनऊ विकास प्राधिकरण की संयुक्त सचिव नोडल अधिकारी ऋतु सुहास ने आरडब्ल्यूए और एलडीए टीम के साथ लखनऊ के नागरिकों को कोविड -19 से बचाव हेतु ” मास्क लगाये रखने एवं शारीरिक दूरी के मानक का अनुपालन किये जाने हेतु ” जागरूकता अभियान चलाया गया ।

अभियान में ऋतु सुहास गोमती नगर विस्तार में स्वयं उपस्थित होकर जिन गरीब व्यक्तियों के पास मास्क , सेनेटाइजर , ग्लैन्स इत्यादि नहीं थे , उन्हें मौके पर ही उपलब्ध कराया गया एवं सदैव मास्क लगाते हुए शारीरिक दूरी के मानक का अनुपालन करने हेतु सचेत किया । सेक्टर -7 , गोमती नगर विस्तार योजना स्थित ओमैक्स रेजीडेन्सी में सघन चेकिंग अभियान भी चलाया गया ।

मौके पर कोविड हेल्प डेस्क पाया गया । इसके पश्चात् टीम द्वारा सुल्तानपुर रोड पर शहीद पथ चौराहे पर नागरिकों को जागरूक किया गया एवं मौके पर यात्रियों एवं बच्चों को निशुल्क भास्क वितरित किया गया । तत्पश्चात कानपुर रोड , मानसरोवर योजना , सनराइज अपार्टमेन्ट , सुलभ आवास योजना , भूकान्त अपार्टमेन्ट इत्यादि में नगर निगम एवं आरडब्लए के सहयोग से परिसर , वाहन , लिफ्ट आदि को सेनेटाइजेशन कराया गया । मौके पर उपस्थित पुलिस बल द्वारा मास्क न पहनने पर चालान भी काटा गया ।

इस दौरान, तहसीलदार एलडीए राजेश शुक्ला, लखनऊ जनकल्याण महासमिति के अध्यक्ष उमाशंकर दुबे, सनराइज आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष प्रभात अग्रवाल,नगर निगम और एलडीए के कर्मचारी सहित सुलभ आरडब्ल्यूए के कई निवासी मौजूद पर मौजूद थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − 16 =

Back to top button