उत्तर प्रदेश

आरडब्ल्यूए को कार्पस फंड मिलने रास्ता साफ, एलडीए वीसी ने समिति का किया गठन, 3 दिन में मांगा जबाब, 31 जुलाई तक सभी आरडब्ल्यूए को मिलेगा कार्पस और मेंटिनेंस फंड, लखनऊ जनकल्याण महासमिति ने जताया आभार

ब्रेकिंग न्यूज़ यूपी

लखनऊ – लखनऊ विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी ने 26 जुलाई की देर रात पदभार ग्रहण करते ही अगले ही दिन आरडब्ल्यूए के कार्पस और मेंटिनेंस शुल्क वापस करने के संबंध में समिति का गठन किया है। इस कमेटी में लखनऊ विकास प्राधिकरण के वित्त नियंत्रक, मुख्य अभियन्ता, सम्बन्धित जोन अधिशासी अभियन्ता, सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी सम्पत्ति / सम्पत्ति अधिकारी और प्रभारी अधिकारी – विज्ञापन को रखा गया है, जो 3 दिन में कार्पस और मेंटिनेंस फंड आरडब्ल्यूए को वापस करने के सम्बंध में बैठक करके विवरण के साथ वीसी को रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे।

एलडीए उपाध्यक्ष के निर्देश पर मुख्य अभियंता इन्दुशेख सिंह ने वित्त नियंत्रक , समस्त अधिशासी अभियन्ता जोन्स , समस्त प्रभारी अधिकारी सम्पत्ति / सम्पत्ति अधिकारी , प्रभारी अधिकारी – विज्ञापन को जारी पत्र में कहा है कि विभिन्न फ्लैटों के मद में जमा कार्पस फण्ड एवं अवशेष अनुरक्षण शुल्क को आरडब्ल्यूए को हस्तांतरित किये जाने के सम्बन्ध में प्रमुख सचिव , आवास एवं शहरी नियोजन विभाग , उ. प्र. शासन की अध्यक्षता में दिनांक 09.07.2021 को सम्पन्न बैठक में प्रमुख सचिव द्वारा निर्देश दिये गये कि माह जुलाई , 2021 के अन्दर ही समस्त आरडब्ल्यूए को कार्पस फण्ड की धनराशि एफ.डी. के रूप में हस्तांतरित कर दी जाये ।

तत्क्रम में उपाध्यक्ष महोदय के अनुमोदन के क्रम में प्राधिकरण को प्राप्त हुए कार्पस फण्ड एवं अनुरक्षण शुल्क तथा प्राधिकरण द्वारा रख – रखाव आदि पर किये गये व्यय का आंकलन किये जाने हेतु निम्नानुसार समिति का गठन किया गया है । जारी पत्र में कहा गया है कि प्रमुख सचिव की अपेक्षा के क्रम में उक्त समिति द्वारा तीन दिनों में वाछित आंकलन कर आख्या तैयार कराया जाना अपेक्षित है ।

गौरतलब लखनऊ जनकल्याण महासमिति की टीम ने पिछपे दिनों प्रमुख सचिव आवास से शिकायत की थी की वर्षों से एलडीए आवंटियों का कार्पस और मेंटिनेंस शुल्क आरडब्ल्यूए को वापस नही कर रहा है। उक्त के संबंध में महासमिति की टीम ने कार्यभार ग्रहण करते ही वीसी का स्वागत करते हुवे उन्हें एक मांग पत्र प्रस्तुत किया था, जिसमे कहा गया था कि लखनऊ जनकल्याण महासमिति की शिकायत पर प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार की अध्यक्षता में लखनऊ विकास प्राधिकरण के साथ हुई बैठक में आरडब्ल्यूए के कार्पस फंड और मेंटिनेंस शुल्क को जुलाई 2021 तक वापस करने का निर्णय लिया गया था लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नही हुई। ऐसे में समयबद्ध तरीके से प्रमुख सचिव आवास की अध्यक्षता में हुवे निर्णय को पूर्ण कराया जाय। लखनऊ जनकल्याण महासमिति के अध्यक्ष उमाशंकर दुबे ने एलडीए वीसी का आभार व्यक्त करते हुवे कहा है वर्षो पुराने मामले को जिस प्रकार एलडीए वीसी ने सकारात्मक सहयोग किया है इससे आरडब्ल्यूए को जनकल्याण के लिए एलडीए से एक उम्मीद जगी है।

उमाशंकर दुबे ने कहा जिस प्रकार एलडीए वीसी ने कार्यभार ग्रहण करते ही महासमिति की शिकायत को अपनी प्राथमिक दी है उससे आने वाले दिनों में क्लब हाउस,स्विमिंग पूल, पार्क, फायर फाइटिंग सिस्टम, वाटर हार्वेस्टिंग सहित अन्य आवंटियों के मुद्दों के भी समाधान होने की उम्मीदें जगी है ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − 10 =

Back to top button