टॉप न्यूज

आरडब्ल्यूए की सहमति के बगैर एलडीए के ठेकेदारों का नही होगा भुगतान, एलडीए वायदा के अनुसार इसी महीने आरडब्ल्यूए को कार्पस और मेंटिनेंस मिलने पर महासमिति एलडीए टीम का करेगी सम्मना

रिपोर्ट – रामकुमार यादव

ब्रेकिंग न्यूज़ यूपी , लखनऊः एलडीए के ठेकेदारों को अब आवंटियों से बात कर के उनकी संतुष्टि हो जाने के बाद ही भुगतान किया जाएगा। एलडीए उपाध्यक्ष के इस फैसले के बाद अब ठेकेदार अथवा कार्यदायरी संस्था निर्माण व फिनिशिंग के कार्य को लंबित नहीं रख सकेंगे जिससे आवंटियों को बड़ी राहत मिलेगी। कैबिनेट मंत्री ब्रजेश पाठक के हस्तक्षेप के बाद शासन स्तर पर लखनऊ जनकल्याण महासमिति और एलडीए के अधिकारियों के बीच हुई बातचीत के बाद यह निर्णय लिया गया है । उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश ने मंगलवार को इस सम्बंध में आदेश जारी कर दिया। आवंटियों को किसी तरह की कोई असुविधा न हो, इसके लिए उन्होंने प्राधिकरण के इंजीनियरिंग विभाग की जिम्मेदारी तय करते हुए अफसरों के कड़े निर्देश दिए हैं।

लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश ने बताया कि प्राधिकरण के बहुमंजिला अपार्टमेंट्स में फ्लैटों की फिनिशिंग व जनसुविधाओं से सम्बंधित कामों के लिए समयबद्ध कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए है ।

उन्होंने कहा कि फ्लैटों की फिनिशिंग से सम्बंधित कार्यों के सापेक्ष कार्यदायी संस्था/ठेकेदार का भुगतान करने से पहले आवंटियों से संपर्क कर कार्य का सत्यापन अवश्य कराया जाए। इसके अलावा सभी बहुमंजिला अपार्टमेंट्स, जहां आरडब्लयूए गठित हैं, उनके परामर्श से अवशेष कॉमन सुविधाओं को समयबद्ध रूप से पूर्ण कराए जाने के लिए कार्य योजना तैयार की जाए। लखनऊ जनकल्याण महासमिति ने फायर फाइटिंग सिस्टम और वाटर हार्वेस्टिंग का मुद्दा प्रमुखता से उठाया था जिस संबंध में प्रमुख सचिव आवास ने भी कार्यवाही के निर्देश दिए थे। एलडीए वीसी ने दिए निर्देश में कहा है कि कार्ययोजना तैयार करके उन्हें दो दिन में संबंधित अधिकारी प्रस्तुत करें।

उंन्होने कहा कि जिन बहुमंजिला अपार्टमेंट्स में आरडब्ल्यूए गठित नहीं है, वहां सम्बंधित अधिशासी अभियंता खुद निरीक्षण कर कार्य योजना तैयार करते हुए काम को समयबद्ध रूप से पूरा कराएं। उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश ने मुख्य अभियंता/अधीक्षण अभियंता को निर्देश दिए हैं कि वे हर बिन्दु का परीक्षण करके सभी अपार्टमेंट्स के सम्बंध में कार्ययोजना तैयार करके उन्हें दो दिन में प्रस्तुत करें।

लखनऊ जनकल्याण महासमिति के अध्यक्ष उमाशंकर दुबे एलडीए वीसी के दिये निर्देश का आभार व्यक्त करते हुवे कहा कि पहली बार किसी वीसी के जनहित में इतने कड़े निर्देश जारी हुवे है। उमाशंकर दुबे ने कहा कि यह आवंटियों के संयुक्त प्रयास का नतीजा है जो आज वह सफलता मिल रही है । उमाशंकर दुबे ने कहा लखनऊ जनकल्याण महासमिति के गठन के बाद यह उपलब्धि अबतक की सबसे बड़ी सफलता है।

उमाशंकर दुबे ने कहा पिछले दिनों हुई प्रदेश के कानून मंत्री बृजेश पाठक के साथ वेबिनार के साथ साथ प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार के साथ हुई महासमिति और एलडीए की बैठक का परिणाम है। उमाशंकर दुबे ने कहा जिलाधिकारी/ वीसी अभिषेक प्रकाश ने मामले को गंभीरता से लिया और आज आरडब्ल्यूए की विभिन्न समस्याओं के संबंध में निर्देश दिए। एलडीए ने जिस प्रकार आरडब्ल्यूए की समस्याओं को पहली बार इतनी गंभीरता से लिया है उम्मीद है एलडीए के एफसी राजीव सिंह ने जो प्रमुख सचिव के सामने महासमिति से वायदा किया था कि इसी महीने सभी आरडब्ल्यूए को कार्पस और मेंटिनेंस फंड जारी कर दिया जाएगा। उम्मीद ही नही अब विश्वास हो गया है की जो एलडीए वायदाखिलाफी के लिए जाना जाता था अब वह जनता से किया गया वायदा पूरा कर अपनी छबि जनता के बीच बदलने का काम करेगा ।

उमाशंकर दुबे के कहा यदि एलडीए इस महीने आरडब्ल्यूए को कार्पस फंड और मेंटिनेंस शुल्क देने का वायदा पूरा कर देता है तो लखनऊ जनकल्याण महासमिति बहुत अगले महीने के पहले सप्ताह में एलडीए पूरी टीम को उनके कार्यकाल में जाकर सम्मानित करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen + 19 =

Back to top button